No icon

प्रभावी रहा अर्ली वार्निंग

प्रभावी रहा अर्ली वार्निंग

पूर्वांचल ग्रामीण विकास संस्थान(PGVS) लखनऊ :-

इस वर्ष उत्तर प्रदेश व बिहार के लिए बाढ़ प्रलयकारी थी, जिससे करोणों की जनसंख्या प्रभावित हुई। हर वर्ष की भांति इस वर्ष जानमाल का नुकसान इतनी भयावह  बाढ़ के बावजूद भी कम रही जिसका मुख्य कारण था बाढ़ पूर्व सूचना प्रणाली का काम करना।

     बहराइच,गोंडा, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर,गोरखपुर में बाढ़ की पूर्व सूचना जिस तरह से प्रशासन को मिली और प्रशासन ने गंभीरता से इसे लेते हुवे अपने प्रत्युत्तर कार्य को किया जिससे जानमाल का नुकसान कम हुआ ये इस प्रणाली की सफलता को दर्शाती है।

    सीमापार समुदाय आधारित पूर्व सूचना प्रणाली से प्रशासन के साथ साथ लगभग 20 लाख समुदाय तक समय से बाढ़ की सूचना मोबाइल पर संदेश, व्हाट्सएप या फेसबुक के माध्यम से गयी जिससे लोग अपनी तैयारी पानी के स्तर के हिसाब से कर सके। बहराइच जिला प्रशासन ने इस तकनीकी को काफी सराहा। सीमापार समुदाय आधारित पूर्व सूचना को और मजबूत बनाने के लिए नेपाल और भारत के मध्य संचार तंत्र को और विकसित करने लिए आने वाले दिन में योजना बनाई जाएंगी।

 

 

 पीजीवीएस हेल्पलाइन ने सही सूचना देकर हिम्मत बढ़ाये रखा-अतुल पांडेय (रुस्तमपुर ढाला गोरखपुर)

राप्ती नदी में नेपाल के द्वारा पानी छोड़ने और बंधे टूटने की अफवाह पिछले कई दिनों तक शहर में थी। जिससे मैं बीमारी के वजह से शारिरिक रूप से कमजोर हूँ। बहुत असमंज में था कि कहा जाय अपने परिवार को लेकर। किससे सहायता ले इस घड़ी में क्योंकि मुसीबत तो सब पर एक साथ ही आती,इसलिये अपने पुराने अनुभव के आधार पर अर्ली वार्निंग पर कार्य कर रही पूर्वांचल ग्रामीण विकास संस्थान के हेल्पलाइन नंबर-9792179433 व वेबसाइट www.wscada.net/pgvs/ पर लगातार संपर्क बनाए रखा जिससे हर पल की ख़बर मुझे मिलती रहती और ये भी जानकारी हुई कि पानी नेपाल नही छोड़ता, क्योंकि नेपाल के पास कोई बैराज तो है नही और ये पानी नेपाल के पहाड़ो और मैदानी क्षेत्र में हो रही वर्षा का आता हैं इसलिए हम नेपाल पर दोष नही दे सकते,बल्कि धन्यवाद पड़ोसी देश और उन देशवासियों को तथा पीजीवीएस टीम को देना चाहते हैं जो हमे सीमापार के नदी के जलस्तर की सूचना हमतक विभिन्न माध्यमों से पहुँचा रहे।
तमाम अपने लोगो द्वारा फैलाई जा रही अफवाहों के आगे ये सूचना मेरे लिए काफी उपयोगी रही। भविष्य में कभी भी मैं या आप सभी अफवाहों पर नही सुविधाओ पर विश्वास करिये।

अतुल पांडेय

निवासी रुस्तमपुर ढाल गोरखपुर
मोबाइल नंबर
98387 36868

Comment